जानिए गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई के बारे में, क्या रहती है दिनचर्या

समाचार

सुंदर पिचाई का पूरा नाम है पिचाई सुंदराराजन.गूगल की होल्डिंग कंपनी अल्फाबेट का कामकाज संभालने वाले पिचाई के नेट वर्थ 6 मिलियन डॉलर यानि 60 करोड़ रुपये है. इतनी नेट वर्थ होने के बावजूद वो बेहद सादा जीवन जीते हैं. इसके लिए संभवतः चेन्नई में उनकी परवरिश है।

भारतीय मूल के सुंदर पिचाई. गूगल सीईओ सुंदर पिचई को हाल ही में अलफाबेट कंपनी की भी अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गयी है. लेकिन क्या आप जानते हैं उनकी दिनचर्या कैसे शुरू होती है ?

गूगल और अलफाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई अपनी दिन की शुरुआत कैसे करते हैं. उन्होंने टेक्नोलोजी से संबंधित एक वेबसाइट के इंटरव्यू में खुद अपने बारे में बताया है. सुंदर पिचाई सुबह साढ़े छह बजे से सात बजे के बीच उठ जाते हैं. जब उनसे पूछा गया कि व्यायाम के दौरान उनका कितना समय बीतता है. उन्होंने बताया कि जहां तक सुबह की बात है तो हल्का – फुल्का व्यायाम कर लेते हैं और बाकी व्यायाम शाम में करते हैं।

पिचाई ने 2016 में एक इंटरव्यू में बताया था कि उनकी नींद सुबह 7 बजे तक खुल जाती है लेकिन आलस के कारण बिस्तर छोड़ने का मन नहीं करता. सो कर उठने के बाद भी वो लंबे समय तक बिस्तरी पर पड़े हुए अलसाते रहते हैं।

सुंदर पिचाई नाश्ते में अंडा और चाय नियमित रूप से लेते हैं. सुंदर पिचई कहते हैं कि प्रोटीन की जरुरत पूरा करने के लिए सुबह में ऑमलेट लेते हैं. उनसे पूछा गया कि चाय और ऑमलेट के अलावा और क्या ? उन्होंने कहा, “चाय, ऑमलेट के अलावा टोस्ट भी उनके नाश्ते का हिस्सा होते हैं।”

इसके अलावा सुंदर पिचाई की एक और विशेषता है जो अन्य दिग्गजों से उन्हें अलग करती है. तकनीक के क्षेत्र में होते हुए भी सुंदर पिचई देश दुनिया की खबरों से रुबरु होने के लिए इसका सहारा नहीं लेते हैं. बल्कि खबरों को जानने के लिए अखबार पढ़ते हैं. न्यूज सोर्स के लिए अखबार में उनका पसंदीदा ‘वाल स्ट्रीट जनरल’ है.

पिचाई ने अपना पहला मोबाइल फोन 1995 में खरीदा था. ये मोटोरोला कंपनी का स्टारटैक मॉडल था. इसके 11 साल बाद 2006 में पिचाई ने अपना पहला स्मार्टफोन लिया.सुंदर पिचाई को मीठा बिलकुल पसंद नहीं है. उनके मुताबिक बचपन में वो खीर में सांभर मिलाकर खाते थे।

जिस प्रकार हर सफल पुरुष के पीछे किसी स्त्री का हाथ होता है. पिचाई की सफलता उनकी आईआईटी खड़गपुर की प्रेमिका अंजलि हैं. अंजलि आज पिचाई की पत्नी हैं और उनके दो बेटियां काव्या और किरण हैं। पत्नी अंजलि की सलाह पर ही पिचाई अच्छे ऑफर मिलने के बावजूद गूगल में बने रहे और आज उसकी होल्डिंग कंपनी अल्फाबेट के मुख्य कार्यकारी बन गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *